चंडीगढ़ शहर की सबसे मुख्य समस्या हाउसिंग बोर्ड की नीतियां: कमल किशोर

चंडीगढ़, 27 नवंबर। चंडीगढ़ नगर निगम के चुनाव की घोषणा के बाद शहर में अलग-अलग व्यक्तियों के द्वारा अपनी दावेदारी अपनी पार्टियों को सौंपी जा रही है। इसी बीच एक नई शुरुआत के साथ सेक्टर 45 चंडीगढ़ के सीनियर सिटीजन वेलफेयर एसोसिएशन (लेडीस एंड जेंट्स) , रेजीडैंट्स वेलफेयर एसोसिएशन सेक्टर 45, मकान बचाओ समिति के सदस्यों व स्थानीय निवासियों के द्वारा मकान बचाओ समिति, रेजिडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन सेक्टर 45 के अध्यक्ष कमल किशोर शर्मा का नाम आने वाले चुनावों में वार्ड नंबर 34 के उमीदवर बनाने के लिए भाजपा कार्यालय में दिया गया। कमल किशोर शर्मा पिछले कई वर्षों से निरंतर समाज सेवा से जुड़े हुए हैं। चंडीगढ़ शहर की सबसे मुख्य समस्या जोकि चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड की नीतियां है उनके संबंधित समस्याओं को मुख्य रूप से उठाते हुए कई वर्षों से सभी सार्वजनिक व राजनीतिक मंच पर इस बात को उठा रहे हैं। पिछले 2 वर्षों से मकान बचाओ समिति के मंच से इस समस्या को चंडीगढ़ प्रशासन के साथ-साथ दिल्ली गृह मंत्रालय तक और शहरी विकास मंत्रालय तक इस मुद्दे को नेताओं के साथ मिलकर उठाया है। पिछले कई वर्षों से विभिन्न सामाजिक संस्थाओं के साथ जुड़े हुए हैं l रेजिडेंस वेलफेयर एसोसिएशन सेक्टर 45 के प्रधान रहते हुए निरंतर लोगों की समस्याओं का समाधान कर रहे हैं अपने पूरे एरिया को अच्छे से संभाला हुआ है। प्रधान रहते हो अपनी सारी जिम्मेदारी को निष्ठा पूर्वक निर्वहन कर रहे हैंl उसी के साथ साथ अच्छे चरित्र का प्रमाण हमेशा मुसीबत में ही पता लगता है इसका सबसे बड़ा उदाहरण कोविड के समय कमल किशोर शर्मा ने दिन-रात लोगों की सेवा में अपना समय दिया, और अपने और साथियों को भी अपने साथ जोड़ा और उनका मार्गदर्शन किया। समय-समय पर धार्मिक कार्यक्रमों का अनुष्ठान करते हैं, जरूरतमंद व्यक्ति की मदद के लिए हर समय तत्पर रहते हैं। वहां के निवासी चाहते हैं ऐसे कर्मठ व्यक्ति को भाजपा के द्वारा नगर निगम चुनाव का टिकट दिया जाए जोकि जीतकर चंडीगढ़ नगर निगम व चंडीगढ़ निवासियों की भलाई के लिए कार्य कर सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *