पुलिस अधिकारी भी लगाएंगे जनता दरबार: अनिल विज

पुलिस अधिकारी भी लगाएंगे जनता दरबार: अनिल विज
Spread the love

चंडीगढ़, 15 अगस्त। हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने आज राज्य के विभिन्न संबंधित पुलिस अधिकारियों को निर्देश जारी करते हुए कहा है कि सभी कार्य दिवसों में जनता की शिकायतों को सुनने और उनका निवारण करने के लिए सुबह 11.00 बजे से दोपहर 12.00 बजे तक जनता दरबार आयोजित किये जायें। इसके अलावा, उन्होंने सड़कों पर ट्रकों और भारी वाहनों की उनकी लेन में आवाजाही सुनिश्चित करने हेतु संबंधित उच्च अधिकारियों को भी आदेश जारी किए है।
आज उन्होंने लिखित आदेश देते हुए प्रदेश के सभी पुलिस आयुक्त, सभी आईजी रेंज, सभी पुलिस अधीक्षक और सभी पुलिस उपायुक्तों को कहा है कि वे अपने अपने कार्य क्षेत्रों में जनता दरबार आयोजित करेंगे ताकि निर्धारित समय अवधि में लोगों की शिकायतों का निवारण हो सके।
इसी प्रकार, उन्होंने सड़कों पर ट्रकों और भारी वाहनों की उनकी लेन में आवाजाही सुनिश्चित करने हेतु संबंधित उच्च अधिकारियों को भी लिखित आदेश जारी किए है। इन आदेशों के अनुपालन के लिए सभी पुलिस आयुक्त, सभी आईजी रेंज, आईजी यातायात, सभी पुलिस अधीक्षक और सभी पुलिस उपायुक्तों को दिन-रात पर्याप्त संख्या में कर्मचारियों को तैनात करने की लिए भी कहा गया है ताकि किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना से बचा जा सके।
उल्लेखनीय है कि गृहमंत्री स्वयं प्रत्येक शनिवार को अंबाला में जनता दरबार लगाते हैं और इस जनता दरबार में प्रदेश भर से आए हुए सभी फरियादियों की शिकायतों को सुनने के बाद वे संबंधित अधिकारियों को निर्देश देते हैं। गौरतलब है कि विज के जनता दरबार में प्रत्येक शनिवार को लगभग एक हजार से अधिक फरियादी आमतौर पर आते हैं और जब वे वापिस जाते हैं तो उन्हें एक उम्मीद होती है कि विज से उन्होंने अपनी फरियाद लगाई है तो जरूर इसका निराकरण होगा।
बता दें कि गत दिवस अम्बाला-अमृतसर राष्ट्रीय राजमार्ग पर जग्गी सिटी सैंटर अम्बाला शहर के नजदीक सडक़ दुर्घटना में दो पुलिस कर्मियों व दो अन्य लोगों की मृत्यु हो गई थी और घटना की सूचना मिलने के बाद हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने शहर के नागरिक अस्पताल में पहुंचकर हादसे की जानकारी ली थी तथा वहीं परिजनों से मिलकर उन्होंने सांत्वना भी व्यक्त की थी। इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा था कि टैंकर व ट्रक वाले एक लाईन में चलें इसके लिए निर्देश जारी किए जायेंगे ताकि भविष्य में कोई अप्रिय घटना से बचा जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *