केंद्र द्वारा मेडिकल शिक्षा में 27 प्रतिशत आरक्षण देने पर भाजपा ओबीसी मोर्चा ने मिष्ठान किया वितरित

Spread the love

चंडीगढ़, 30 जुलाई। केंद्र में मोदी सरकार द्वारा मेडिकल शिक्षा के क्षेत्र में पिछड़ा वर्ग और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लोगों के लिए 27 प्रतिशत के आरक्षण के द्वार खोलने के ऐतिहासिक फैसले पर भारतीय जनता पार्टी चंडीगढ़ के ओबीसी मोर्चा ने ख़ुशी जाहिर करते हुए आज डडूमाजरा कालोनी में ख़ुशी मनाई और मिष्ठान का वितरण किया।
इस अवसर पर डॉ भीम राव अम्बेडकर जिला के जिला अध्यक्ष रविन्द्र पठानिया और मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष ऍन आर मेहरा, मोर्चा के प्रदेश महासचिव ओपी मेहरा और तजिंदर बग्गा, जिला के महामंत्री रवि रावत, सचिव सिमरनजीत कौर, मंडल अध्यक्ष राकेश अग्रवाल और महामंत्री सतबीर सिंह व मोर्चा के जिला अध्यक्ष भरत यादव और अन्य कार्यकर्ताओं ने लोगों के बीच लड्डू बांटे और एक दुसरे को बधाई प्रदान की।
इस अवसर पर मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष मेहरा ने मोदी सरकार के इस फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि जिस प्रकार से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी कैबिनेट में 27 पिछड़ा वर्ग के लोगों को मौका दिया और अब मेडिकल शिक्षा के क्षेत्र में आरक्षण प्रदान कर ये तो साबित कर दिया है कि आज तक पिछड़ा वर्ग के लिए किसी भी सरकार ने इतना नहीं किया जितना मोदी सरकार ने किया है | उन्होंने इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा, प्रदेश अध्यक्ष अरुण सूद, सांसद किरण खेर, प्रदेश उपाध्यक्ष एवं जिला प्रभारी आशा जसवाल, मोर्चा प्रभारी प्रदेश सचिव हुकुम चंद का आभार व्यक्त किया और कहा कि पिछड़ा वर्ग के सभी लोग भाजपा के साथ हैं।
इस मौके पर जिला अध्यक्ष रविन्द्र पठानिया ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा, समूचे केंद्रीय नेतृत्व, क्षेत्रीय प्रभारी एवं राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सौदान सिंह, प्रदेश प्रभारी एवं राष्ट्रीय महामंत्री दुष्यंत गौतम, प्रदेश अध्यक्ष अरुण सूद का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि वास्तव में मोदी सरकार ने पिछड़ा और आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को मेडिकल शिक्षा में आरक्षण प्रदान करके साबित किया कि भाजपा ने जो कहा वो कर के दिखाया है सही मायने में भाजपा के शीर्ष नेता स्व पंडित दीन दयाल उपाध्याय द्वारा परिभाषित अन्तोदय की परिभाषा को धरातल पर लाकर लागू किया तो केवल और केवल मोदी सरकार ने। इससे पिछड़ा जाति के लोगों को अब मेडिकल की शिक्षा प्राप्त करने में भी सुगमता होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *