यह देश में लोकतंत्र की जीत है, तानाशाही ताकतों को मुंहतोड़ जवाब है: सुनील यादव

यह देश में लोकतंत्र की जीत है, तानाशाही ताकतों को मुंहतोड़ जवाब है: सुनील यादव
Spread the love

चंडीगढ़, 21 फरवरी। लगभग 1 माह की लंबी कानूनी लड़ाई के बाद सर्वोच्चय न्यायालय के हस्तक्षेप के बाद चंडीगढ़ को नया मेयर मिल गया और भाजपा की धांधली उजागर हुई है चंडीगढ़ युवा दल ने इस पूरे घटनाक्रम के लिए केंद्र की भाजपा सरकार व स्थानीय नेतृत्व को जिम्मेदार ठहराते हुए जनता से माफी मांगने की मांग की  हैं। युवा दल के प्रधान विनायक बंगिया व संयोजक सुनील यादव का कहना है कि जनता के अंदर भाजपा के प्रति आक्रोश है जो कि चुनावों में निकलेगा तथा भाजपा को सबक सिखाएंगे।
मेयर चुनावों में भाजपा नेताओं ने धन बल तथा बाहुबल के जरिए भाजपा का मेयर बनाने की असफल कोशिश की व सभी लोकतांत्रिक मूल्यों तथा नैतिकता को ताक पर रख दिया  लोकतंत्र की हत्या करने पर उतारु भाजपा गैर भाजपाई जनमत के प्रति कैसा व्यवहार करती है चंडीगढ़ इसका जीता जागता प्रमाण है।
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के इशारे पर पूरा घटनाक्रम दिल्ली में रचा गया। शहर को अस्थिरता में झोंकने का प्रयास कर भाजपा ने लोकतंत्र का गला घोटा है। भाजपा अध्यक्ष को इस सबके लिए प्रदेश की जनता से माफी मांगनी चाहिए।
शहर में इंडिया गठबंधन से घबराकर ही भाजपा ने धनबल के आधार पर नगर निगम को अस्थिर करने का प्रयास किया। भाजपा को लगता है कि वे छल बल का इस्तेमाल कर सत्ता पर बैठा जाए, लेकिन इस देश की सम्मानित सर्वोच्चय न्यायालय के हस्तक्षेप से उनकी पोल खुल गई है। यहां छल, बल, कपट व बाहुबल कभी भी सफल नहीं हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *