सीबीएसई दोस्त फ़ॉर लाइफ एप से परामर्शदाता करेंगे छात्रों का मार्गदर्शन

चंडीगढ़़/दिल्ली, 8 मई। पिछले 23 वर्षों से चल रहा सीबीएसई का वार्षिक परामर्श कार्यक्रम एक नए आकर्षक और सुलभ कलेवर के साथ छात्रों ,अभिभावकों तथा शिक्षकों के परामर्श और मार्गदर्शन हेतु एक मोबाइल  एप CBSE Dost For Life के साथ लॉन्च किया गया है I

गत दशकों से जहाँ टेली हेल्पलाइन के माध्यम से छात्रों को परामर्श दिया जाता रहा है, वहीं कोरोना महामारी के दौरान पूरे विश्व में फैले सीबीएसई के छात्रों के स्वास्थ्य में मध्यनज़र इस मोबाइल एप के माध्यम से घर बैठे आसानी से निःशुल्क सूचना व परामर्श प्राप्त किया जा सकता है I यह सेवा देश भर में प्रशिक्षित 66 तथा सऊदी अरब , संयुक्त अरब अमीरात , नेपाल , ओमान , कुवैत , जापान तथा अमेरिका में 17 परामर्शदाताओं तथा प्राचार्यों द्वारा स्वैच्छिक व निःशुल्क दी जा रही है I

सीबीएसई की पब्लिक रिलेशन सेल की मुखिया रमा शर्मा के नेतृत्व में केंद्रीय विद्यालय संगठन के वरिष्ठ शिक्षक परामर्शदाता राजेश वशिष्ठ, प्राचार्या श्याम चावला, जसप्रीत कौर, डॉक्टर नीलू शर्मा तथा अखिलेश कुमार के अलावा अन्य विद्यालयों तथा संस्थाओं से 61 अन्य परामर्शदाता इस अभियान से जुड़े हैं। परामर्श प्रातः 9.30 बजे से सांय 5.30 बजे तक दो चरणों में इस एप में चैट बॉक्स से प्राप्त किया जा सकता है I वर्तमान में यह सुविधा एंड्राइड मोबाइल पर उपलब्ध है तथा चरणबद्ध तरीके से इसे देश दुनिया में सभी छात्रों तक पहुँचाया जा रहा है I

इस एप के द्वारा छात्र दसवीं तथा बारहवीं के पश्चात क्या कोर्स करें , मानसिक स्वास्थ्य , कोरोना गाइड , रैप सांग्स , दृश्य – श्रव्य संदेश तथा समाचार पत्रों के साप्ताहिक प्रश्न-उत्तर कॉलम इत्यादि जानकारी ले सकते हैं I

छात्र जैसे ही इस एप को अपने मोबाइल पर डाउनलोड करेंगे तो उनका आईडी और पासवर्ड प्राप्त कर उस समय ऑनलाइन उपस्थित काऊंसलर के समूह में उपलब्ध परामर्शदाता से संपर्क स्थापित कर सकेंगे I इससे एक समय में ही गोपनीयता का पालन करते हुए अनेक छात्र जुड़ सकेंगे I

इसके अलावा बोर्ड द्वारा मेन्टल हेल्थ एंड वेल बीइंग मैन्युअल भी तैयार किया गया है जिसमें छात्रों के विभिन्न विकास चरणों में मानसिक स्वास्थ्य तथा विद्यालय और समाज के योगदान पर प्रकाश डाला गया है I कोरोना महामारी के दौरान आचार – व्यवहार स्थिति पर विस्तार से बताया गया है ।

दोस्त फ़ॉर लाइफ एप के द्वारा पाठ्यक्रम , समय प्रबंधन , व्यवहार कुशलता , परीक्षा , परिणाम , भविष्य के लिए तैयारी ,उच्च शिक्षा में प्रवेश हेतु मार्गदर्शन , व्यवहार , संबंध तथा कोरोना महामारी के बारे में परामर्श व प्रमाणिक जानकारी प्रदान की जाएगी ताकि छात्रों में उभरते अवसाद , कुंठा , क्रोध , भय ,शंका तथा अनिश्चितता की स्थिति को निर्मूल किया जा सके और बेहतर लक्ष्यों के साथ उनका मानसिक तथा मनोसामाजिक स्वास्थ्यवर्धन किया जा सके I

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *