पंजाब में कोविड से बचाव की सावधानियों के साथ गेहूं की खरीद आज से

चंडीगढ़, 9 अप्रैल। कोविड महामारी के दरमियान कल 10 अप्रैल से शुरू हो रही गेहूं की खरीद को निर्विघ्न और सुचारू बनाने के लिए पंजाब सरकार ने राज्य भर में सभी 154 मार्केट कमेटियों में कोविड टीकाकरण कैंप स्थापित किये जिससे रबी मंडीकरण सीजन के दौरान अनाज मंडियों में आने वाले 45 साल या इससे अधिक उम्र के सभी व्यक्तियों को कोविड से बचाव का टीका लगाया जा सके।
यह प्रगटावा करते हुये पंजाब मंडी बोर्ड के चेयरमैन लाल सिंह ने बताया कि मंडी बोर्ड ने महामारी के कठिन समय के दौरान गेहूँ की खरीद के चुनौतीपूर्ण कार्य के लिए पुख्ता तैयारियाँ की हैं।
कोरोना वायरस को मात देने के लिए खरीद कामों से जुड़े सभी पक्षों को कोविड के सुरक्षा नियमों का पालन करने की अपील करते हुये चेयरमैन ने बताया कि पंजाब सरकार जहाँ मंडियों में से गेहूँ के एक-एक दाने को खरीदने के लिए वचनबद्ध है, वहीं किसानों, मजदूरों, आढ़तियों और खरीद एजेंसियों के मुलाजिमों की सुरक्षा भी यकीनी बनाऐगी।
चेयरमैन ने बताया कि पंजाब मंडी बोर्ड ने कोविड सम्बन्धी सुरक्षा उपायों की सख्ती से पालना को यकीनी बनाने के लिए अपने 5600 आधिकारियों/कर्मचारियों को 10,000 मास्क (एन-95) और सैनीटाईजरों की 10,000 बोतलें मुहैया करवाई हैं जिससे कोविड महामारी के मद्देनजर गेहूँ की निर्विघ्न खरीद यकीनी बनाई जा सके। उन्होंने कहा कि मंडी बोर्ड के मुलाजिमों की तरफ से साल 2021-22 के रबी मंडीकरण सीजन के लिए खरीद कार्य सुचारू बनाने के लिए उचित बंदोबस्त करने के लिए दिन-रात काम किया जा रहा है। इसके इलावा मंडी बोर्ड ने खरीद केन्द्रों पर अपनी फसल लेकर पहुँचने वाले किसानों के लिये एक लाख मास्क और 35,000 लीटर सैनीटाईजर का भी इंतजाम किया है।
लाल सिंह ने आगे कहा कि मंडियों में भीड़-भाड़ को रोकने के लिए अनाज मंडियों की संख्या 1872 से बढ़ा कर 4000 की गई है और इस सीजन के दौरान 130 लाख मीट्रिक टन गेहूँ खरीदने का लक्ष्य है। उन्होंने आगे बताया कि किसानों को अपनी उपज चरणबद्ध मंडियों में लाने के लिए कहा जा रहा है जिससे कोविड की रोकथाम के लिए सभी एहतियात इस्तेमाल किये जा सकें। उन्होंने बताया कि मंडी बोर्ड ने इस सीजन के दौरान पीने वाला साफ पानी और साफ-सफाई के इलावा पास जारी करने के लिए रूप-रेखा बनायी है। उन्होंने बताया कि मंडी बोर्ड की तरफ से किसानों को आढ़तियों के द्वारा पास जारी किये जाएंगे।
गौरतलब है कि पिछले रबी सीजन के दौरान राज्य सरकार कोविड की बन्दिशों के बावजूद 127.13 लाख मीट्रिक टन गेहूँ की सफल खरीद की थी और किसानों को आढ़तियों के द्वारा 17.51 लाख पास किये गए थे।
लाल सिंह ने आगे बताया कि सबसे अधिक प्राथमिकता राज्य सरकार की तरफ से समय-समय पर स्वास्थ्य सुरक्षा सम्बन्धी जारी किये दिशा-निर्देशों की पालना को यकीनी बनाना है। उन्होंने बताया कि खरीद कामों के दौरान किसानों, आढ़तियों, मजदूरों, मार्केट कमेटियों और खरीद एजेंसियों के दरमियान सामाजिक दूरी बनाई रखने के लिए विशेष यत्न किये जा रहे हैं।
मंडी बोर्ड और मार्केट कमेटियों की तरफ से निभाई जा रही सेवाओं की सराहना करते हुये चेयरमैन ने उनको अपनी ड्यूटी और भी समर्पण भावना, संजीदगी और वचनबद्धता के साथ निभाने की अपील की जिससे इस व्यापक कार्य को पूरा किया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.