भगवान महावीर का सिद्धांत जैव विविधता के संरक्षण का संदेश अहिंसा परमो धर्म पर आधारित: शाही

चंडीगढ़, 22 मई। विश्व जैव विविधता दिवस के पावन अवसर पर जय मधुसूदन जय श्री कृष्ण फाउंडेशन के निदेशक प्रभुनाथ शाही ने रविवार को जैन स्थानक सभा मोहाली के सभागार में उपस्थित सभी पदाधिकारियों के साथ प्रकृत के सभी जीवो के अस्तित्व के बारे में विस्तार से चर्चा किया। शाही ने बताया कि भगवान महावीर का सिद्धांत जैव विविधता के संरक्षण का संदेश देते हुए अहिंसा परमो धर्म पर आधारित है जिससे हमें शिक्षा लेते हुए छोटे से जीवो और पेड़ पौधे से लेकर सभी का विशेष ध्यान रखना चाहिए और इस प्रकृति में सभी को समान रूप से जीने का अधिकार है। उन्होंने बताया कि आज जरूरत है कि हम सब सभी जीवों के साथ जियो और जीने दो के व्यवहार के साथ आगे बढ़े तभी हमारा पर्यावरण सुरक्षित और संरक्षित हो सकता है। जैन स्थानक सभा के प्रधान अशोक ने जय मधुसूदन जय श्री कृष्ण फाउंडेशन के द्वारा पर्यावरण रक्षा के लिए चलाए जा रहे हमारा काम धरती माता के नाम कार्यक्रम की बहुत सराहना की और सभी पदाधिकारियों ने शाही का हृदय से धन्यवाद किया। शाही ने सभी को औषधीय पौधों के गुणों को बताते हुए उसकी लिखित सामग्री भी उपलब्ध कराई और आगे पौधारोपण में भी सहयोग देने का आश्वासन दिया। हम अपने आसपास किस तरह के पौधे लगाएं और कब लगाएं तथा कैसे तैयारी करें इस पर भी विशेष चर्चा हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.