प्रशासन वृद्धा, विधवा एवं विकलांग पेंशन 2000/- रूपये वाले प्रस्ताव को जल्द लागू करे: सत्य पाल जैन

चंडीगढ़, 27 मार्च। चंडीगढ़ की समाज कल्याण समिति के अध्यक्ष तथा पूर्व भाजपा सांसद सत्य पाल जैन ने आग्रह किया है कि केन्द्रीय गृह मंत्रालय एवं चंडीगढ़ प्रशासन समाज कल्याण समिति द्वारा की गई उस सिफारिश पर जल्द निर्णय ले जिसमें समिति ने प्रस्ताव किया था कि चंडीगढ़ में वृद्धा, विधवा तथा विकलांग लोगों की पेंशन प्रतिमाह 1000/- रूपये से बढ़ाकर 2000/- रूपये प्रतिमाह की जाये।
जैन ने आज केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह एवं चंडीगढ़ के प्रशासक वी.पी. सिंह बदनौर को लिखे पत्र में कहा है कि समाज कल्याण समिति ने अपनी 26 नवम्बर, 2018 की बैठक में सर्व सम्मति से निर्णय लिया था कि वर्तमान में वृद्धा, विधवा तथा विकलांगो को दी जा रही पेंशन की 1000/- रूपये माहवार की राषि को बढ़ाकर 2000/- रूपये प्रतिमाह किया जाये। उन्होंने बतलाया कि विभाग ने इस सम्बंध में प्रस्ताव तैयार करके 4 दिसम्बर, 2018 को वित विभाग को भेज दिया था। उन्होंने कहा कि इस के बाद यह प्रस्ताव केन्द्र सरकार को भेजा गया, जिसपर केन्द्र सरकार ने चंडीगढ़ प्रशासन से कुछ जानकारियां मांगी थी।
जैन ने कहा कि अब हरियाणा और पंजाब की सरकारें यह पेंशन 1000/- रूपये से बढ़ाकर लगभग 2000 – 2500 रूपये प्रतिमाह कर चुकी है। इस पेंशन के लाभार्थी समाज के उस वर्ग से है जिसे समाज द्वारा अधिक सहायता एवं सुरक्षा की आवष्यकता है। इसलिये यह आवष्यक है कि चंडीगढ़ में भी पंजाब एवं हरियाणा की तर्ज पर यह पेंशन तुरन्त बढ़ाई जाये ताकि समाज का यह वर्ग अपना गुज़ारा थोड़ा आसानी से चला सके।
जैन ने कहा कि इस वृद्धि से लगभग 25000 परिवारों को आर्थिक लाभ मिलेगा, जो कि केन्द्र की प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की सरकार की नीतियों के अनुरूप होगा। यह जानकारी जारी एक विज्ञप्ति में दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *