भाजपा नेता नरेश अरोड़ा पर बरसे सुभाष धीमान, कहा जानबूझ कर उनकी छवि कर रहें खराब

चण्डीगढ़, 25 मार्च। ईडब्लयु वेलफेयर एसोसिएशन, इंदिरा कालोनी के वर्तमान चेयरमैन व पूर्व प्रधान समाजसेवी सुभाष धीमान ने भाजपा नेता नरेश अरोड़ा के उस ब्यान की कड़ी निंदा की है जिसमें कि उनके कांग्रेस के प्रभारी व उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत से मिलने की निंदा के गई है और सुभाष धीमान को सजायाफ्ता करार दिया है। सुभाष धीमान, जो ऑल मनीमाजरा वेलफेयर एसोसिएशन के उपप्रधान भी हैं एवं कई अन्य संस्थाओं से भी जुड़े हुए हैं, ने यहां जारी एक ब्यान में कहा है कि उन्हें स्थानीय स्थानीय निवासियों की समस्याओं को लेकर हर पार्टी के नेताओं से मिलना पड़ता है। इसी सिलसिले में 20 मार्च को वे कालोनी की कुछ समस्याओं को लेकर हरीश रावत से मिले थे। हरीश रावत से इस मुलाकात को भाजपा नेता नरेश अरोड़ा ने ओछी राजनीति करते हुए बवाल कर दिया जिसके बारे में उन्हें मीडिया के माध्यम से पता चला जिसके चलते उन्हें और उनके परिवार को बहुत आघात पहुंचा। उन्होंने आज अपने चण्डीगढ़ भाजपा के बड़े से बड़े नेताओं से लेकर स्थानीय नेताओं के साथ की गई मुलाकातों के साथ अपनी तस्वीरें जारी करते हुए नरेश अरोड़ा से सवाल किया कि अब इस बारे में भी क्या वे अपने नेताओं पर छींटाकशी करेंगे?
उन्होंने कहाकि वे अक्सर कांग्रेस के अलावा भाजपा और अन्य पार्टी के नेता और प्रशासनिक अधिकारियों से मुलाकात कर लोगों की समस्या को आगे रखतें हैं। उन्होंने कहा कि वे एक समाजसेवी हैं व इसके चलते कई भाजपा नेताओं पूर्व अध्यक्ष संजय टंडन, सांसद किरण खेर, सत्यपाल जैन और मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष अरूण सूद के अलावा अन्य कई नेताओं से भेंट की है। उन्होंने कहा कि यह सही है क‌ि मेरे ऊपर ‌आरोप के चलते कोर्ट में केस चल रहा है लेकिन मुझे न्यायालय पर पूरा भरोसा है कि वो सही फैसला देगा और दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा।
इसके अलावा अगर किसी को मेरे हरीश रावत के साथ मुलाकात करने पर आपत्ति है तो यह भी साफ कर दे क‌ि जब मैं अपनी समस्या को लेकर किसी भाजपा नेता से मुलाकात करता हूं तो वो भाजपा के नेताओं को भी क्या इस नजर से देखते हैं?
उनकी छवि को खराब करने की कोशिश करने वालों को यह समझ लेने चाहिए कि लोगों से मिलने वाला या उन्हे साथ लेकर चलने वाला एक सच्चा नेता होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *