निरंकारी बाबा गुरबचन सिंह मेमोरियल क्रिकेट टुर्नामेंट का शुभारम्भ

चंडीगढ़, 20 मार्च। सत्गुरू माता सुदीक्षा महाराज के आशीर्वाद से 22वें निरंकारी बाबा गुरबचन सिंह मेमोरियल क्रिकेट टूर्नामेंट का शुभारंभ, संत निरंकारी आध्यात्मिक स्थल समालखा ग्राउंड में किया गया। यह टुर्नामेंट 19 मार्च से 16 अप्रैल, 2022 तक आयोजित किया जाएगा। इस प्रतियोगिता में देश के लगभग सभी राज्यों से आये हुए युवाओं ने पंजीकरण कराया जिनमें से 48 टीमें प्रतियोगिता के लिए चयनित हुई। क्रिकेट टुर्नामेंट के सभी प्रतिभागी कोविड-19 के सन्दर्भ में सरकार द्वारा जारी किए गए सभी दिशा-निर्देशों का उचित रूप से पालन करेंगें।
इस क्रिकेट टुर्नामेंट का आयोजन संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन के तत्वधान् में किया जा रहा है; जिसका समस्त निर्देशन जोगिन्दर सुखीजा, सचिव संत निरंकारी मण्डल द्वारा किया गया है।
इस क्रिकेट टुर्नामेंट का उद्घाटन संत निरंकारी मण्डल के प्रधान आदरणीय सी. एल. गुलाटी एवं आर. के. कपूर चेयरमैन सी.पी.ए.बी, (केन्द्रीय योजना एंवसलाहकार बोर्ड) के कर कमलों द्वारा किया गया। इस अवसर पर संत निरंकारी मण्डल के पदाधिकारी, केंद्र योजना एवं सलाहकार बोर्ड के सदस्य, कार्यकारिणी समिति के सदस्य एवं सेवादल के अधिकारी गण भी उपस्थित रहे।
इस क्रिकेट टूर्नामेंट का आरम्भ बाबा हरदेव सिंह जी द्वारा, बाबा गुरबचन सिंह जी की स्मृति में किया गया था। बाबा जी ने सदैव ही युवाओं की ऊर्जा को नया आयाम देने के लिए उन्हें निरंतर खेलों के लिए प्रेरित एवं प्रोत्साहित किया, जिससे उनकी ऊर्जा को उपयुक्त दिशा मिले और वह देश एवं समाज का सुंदर निर्माण तथा समुचित विकास कर सकें।
सत्गुरू माता सुदीक्षा महाराज भी समय समय पर नई ऊर्जा एवं उत्साह के साथ विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं इत्यादि का आयोजन करके युवाओं को निरंतर प्रोत्साहित कर रहे हैं; जिसमें निरंकारी यूथसिम्पोज़ियम (NYS)और निरंकारी सेवादल सिम्पोज़ियम (NYS) जैसे इविन्टस की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। सत्गुरू माता जी सदैव ही शारिरिक व्यायाम एवं खेलों के प्रतिप्रोत्साहन पर बल देते आ रहे हंैताकि हम अपने जीवन में इस से प्ररेणा ले सकें। माता जी का यह कहना है कि आत्मिक रूप से स्वस्थ होने के साथ साथ हमें मानसिक एवं शारिरिक रूप से भी स्वस्थ होना आवश्यक है।
इस टूर्नामेंट में सभी प्रतिभागियों एवं उनके सहयोगियों के लिए कोविड 19 के निर्देशों को ध्यान में रखते हुए उचित प्रबंध व्यवस्था भी की गई है जैसे कि -चिकित्सा सुविधाएं, जलपान, प्याऊ, सुरक्षा एवं पार्किंग इत्यादि।
मानव एकता रूपी इस क्रिकेट टूर्नामेंट का उद्देश्य विभिन्न संस्कृतियों एवं प्रदेशों से आए हुए सभी प्रतिभागियों में प्रेम, एकत्व एवं भाईचारे की भावना के साथ मानवीय एकता स्थापित करना है ताकि आध्यात्मिक ज्ञान के अंतर्निहित आधार के साथ विवधता में एकता का एक सुंदर उदाहरण प्रस्तुत करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.