मुस्लिम समुदाय ने शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने मांग की

चंडीगढ़, 16 मार्च । मुस्लिम समुदाय चंडीगढ़ की ओर से मंगलवार को एक विशेष प्रतिनिधिमंडल चंडीगढ़ पुलिस के एसएसपी कुलदीप सिंह चहल से मुलाकात करने सेक्टर 9 पुलिस हेड क्वार्टर पहुंचा। जहां पर प्रतिनिधि मंडल द्वारा एक लिखित में शिकायत करते हुए वसीम रिजवी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की है।
मंडल ने आरोप लगाते हुए कहा है कि वसीम रिजवी ने सुप्रीम कोर्ट में पीआईएल दायर कर कुरान शरीफ की 26 आयात को हटाने की अर्जी दाखिल की है। जिस कारण पूरे भारत में मुस्लिम समुदाय में भारी रोष है। जगह- जगह मुस्लिम समुदाय के लोग अपने अपने क्षेत्र में प्रदर्शन कर रहे हैं, और मांग कर रहे हैं कि इस व्यक्ति को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए। इस मौके पर प्रतिनिधि मंडल में विशेष तौर पर चंडीगढ़ से समाजसेवी वसीम मीर इमरान मंसूरी ने बताया की वसीम रिजवी के बयानों को लेकर चंडीगढ़ के मुस्लिम समुदाय में भारी रोष वह गुस्सा है, जिसके संदर्भ में आज एसएसपी कुलदीप सिंह चहल से मुलाकात करके इस व्यक्ति पर सख्त से सख्त कार्रवाई करने की मांग की गई है।
वसीम ने बताया कि मुस्लिम समुदाय नहीं चाहता करोना महामारी के दौरान उन्हें सड़कों पर आना पड़े, इस मौके पर वक्फ बोर्ड लीज कमेटी के पूर्व चेयरमैन मोहम्मद सादिक शेख, मुंसिपल कमेटी के पार्षद हाजी खुर्शीद सलमानी, डॉक्टर हसन ने बताया कि ऐसे व्यक्ति को जल्द से जल्द सलाखों के पीछे डाल देना चाहिए जो देश में आपसी भाईचारा खराब करने का काम करते हैं, हिंदुस्तान के लोग अभी करोना महामारी में एक दूसरे का साथ देकर करोना से लड़ रहे हैं और यह इस तरह की बातें निकाल कर मुल्क का माहौल खराब कर रहा है इस मौके पर प्रतिनिधि मंडल में डॉक्टर हसन, सादिक शेख, वसीम मीर, इमरान मंसूरी हाजी खुर्शीद सलमानी, हाजी मरगूब हसन, मौलाना नजरुल हक ,डॉक्टर खालिद, परवेज शेख, चांद मियां, हाजी रईस सलमानी, मजहर हुसैन शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.