हमारे सैनिकों के पराक्रम, साहस और दृढ़ संकल्प का कोई दुनिया में मुकाबला नहीं: राज्यपाल हरियाणा

चंडीगढ़, 15 जनवरी। हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने आज भारतीय सेना दिवस पर सेना के जवानों, पूर्व सैनिकों और उनके परिवारों को हार्दिक बधाई देते हुए कहा कि देश की सेवा में हमारे सैनिकों के पराक्रम, साहस और दृढ़ संकल्प का कोई दुनिया में मुकाबला नहीं है।
उन्होंने देश के बहादुर सैनिकों की बहादुरी को सलाम करते हुए कहा कि वीर सैनिक बाधाओं और चुनौतियों का सामना करते हैं और राष्ट्रीय सुरक्षा और शांति सुनिश्चित करते हैं, हम उनके हमेशा आभारी है। दत्तात्रेय ने कहा कि सभी बहादुर सैनिक आदर्श वाक्य का पालन करते हुए ‘स्वयं से पहले सेवा‘ लिए सर्वोच्च बलिदान देते हैं।
सेना और अन्य बलों में शामिल होकर राष्ट्र की सेवा करने की हरियाणा की महान परंपरा की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि 13वीं कुमाऊं रेजीमेंट के सैनिकों ने 1962 में रेजांगला में चीनी सेना की कई टुकडियों को हराया था और वे वीर सैनिक हरियाणा के थे।
राज्यपाल ने कहा कि हरियाणा के सैनिकों सहित हमारे सैनिक आखिरी गोली और आखिरी सांस तक लड़ने और बहादुरी और बलिदान का एक नया अध्याय लिखने के लिए जाने जाते हैं। राष्ट्र निर्माण में उनका योगदान अतुलनीय है। सैनिकों की अतुलनीय वीरता और असीम दृढ़ संकल्प उन्हें दुनिया के सर्वश्रेष्ठ सैनिक बनाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *