कोरोना संक्रमण की रफ्तार चिंताजनक, सतर्कता जरूरी: डॉ. चौहान

करनाल, 14 जनवरी। पिछले एक हफ्ते के दौरान कोरोना संक्रमण की दर में आई अचानक तेज वृद्धि चिंताजनक है। आशंका के अनुरूप कोरोना के नए मामलों का देश भर में विस्फोट होता दिखाई दे रहा है। हरियाणा, दिल्ली और महाराष्ट्र समेत देशभर में कोरोना संक्रमण की रफ्तार तेज हो गई है। इससे घबराने की नहीं, लेकिन अत्यंत सतर्क रहने की जरूरत है। यह बात हरियाणा ग्रंथ अकादमी के उपाध्यक्ष एवं भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता डॉ. वीरेंद्र सिंह चौहान ने रेडियो ग्रामोदय के लाइव कार्यक्रम में कही। उन्होंने हरियाणा के सभी निवासियों को मकर संक्रांति की बधाई दी।
डॉ. चौहान ने बताया कि गुड़गांव, फरीदाबाद और दिल्ली से सटे हरियाणा के इलाकों में कोरोना संक्रमण के नए मामले ज्यादा आ रहे हैं। गुरुग्राम और फरीदाबाद में  ओमिक्रॉन वेरिएंट के 7 नए मामले सामने आए हैं, जबकि तीन लोगों की कोरोना से मृत्यु भी हुई है। बीते 12 जनवरी को राज्य भर में कोरोना के 6883 नए मामले सामने आए थे। इसे मिलाकर हरियाणा में अब तक कुल 8,12,516 कोरोना के मामले दर्ज किए जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि हरियाणा में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 31 हजार को पार कर चुकी है ।
ग्रंथ अकादमी उपाध्यक्ष ने कहा कि कोरोना टीकाकरण के लिए घर-घर दस्तक अभियान का लक्ष्य शत-प्रतिशत पूरा करने के लिए लोगों को सहयोग करना चाहिए। पिछले 10 दिनों के दौरान 15 से 18 वर्ष की आयु के करीब तीन करोड़ युवाओं को कोरोना वैक्सीन का टीका लगाया गया है। वैक्सीन कोरोना महामारी पर नियंत्रण पाने का सबसे प्रभावी उपाय है। इसलिए वैक्सीन लेने में कोताही न करें और अफवाहों पर ध्यान न दें।
डॉ चौहान ने लोहड़ी एवं मकर संक्रांति की बधाई देते हुए कहा कि मकर संक्रांति हिंदुओं का एक महत्वपूर्ण त्यौहार है। हरियाणा में मकर संक्रांति का पर्व धूमधाम से मनाया जाता है। इस पर्व के दिन हरियाणा के लोग अपने बुजुर्गों को उपहार देकर उन्हें सम्मानित करते हैं। इसलिए राज्य में इसे बुजुर्गों को मनाने का पर्व भी कहा जाता है। इसी प्रकार लोहड़ी में नवविवाहिता महिलाओं एवं नवजात बच्चों को विशेष उपहार देकर नृत्य संगीत का आयोजन किया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *