स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों द्वारा और हड़तालें व प्रदर्शन नहीं किये जाएंगे, यूनियन के प्रतिनिधियों ने भरोसा दिया: डी.सी.एम

चंडीगढ़, 23 नवंबर। उप मुख्यमंत्री (डीसीएम) पंजाब ओ.पी. सोनी, जिनके पास राज्य का स्वास्थ्य विभाग भी है, के भरोसे के बाद स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों की अलग-अलग यूनियनों ने हड़तालों और प्रदर्शनों को वापस लेने का भरोसा दिया है। उप मुख्यमंत्री ने ऐसोसीएशनों का धन्यवाद किया जिन्होंने मरीज़ों के हितों के लिए स्वास्थ्य सेवाओं की निर्विघ्न डिलीवरी बहाल करने के लिए सहमति दी है।
डीसीएम ने कहा, “मैडीकल पेशे की नैतिकता अनुसार बीमारों की ज़रूरतों स्वैहित से पहले होती हैं। मैं उन सभी ऐसोसीएशनों का धन्यवाद करता हूँ जिन्होंने सरकार की विनती को स्वीकार किया है और हड़तालों को वापस लेने और प्रदर्शनों /आंदोलनों को ख़त्म करने का भरोसा दिया है। मैं भरोसा दिलाता हूँ कि हमारी सरकार उनके इस कदम के लिए सकारात्मक ढंग से प्रतिक्रिया देगी।“
विवरण देते हुये डीसीएम ने बताया कि मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग के सीनियर अधिकारियों की हाज़िरी में स्टाफ नर्स यूनियन, एनएचएम कर्मचारियों, एएनएमज़, कोविड वालंटियरों, 108 एंबुलेंस ड्राइवरों और पीसीएस डाक्टरों के प्रतिनिधियों के साथ मीटिंगें की गई। मीटिंगों में मसलों के सुखद हल के लिए विस्तृत विचार -विमर्श किया गया।
अधिकारियों को हिदायत की गई कि वह सभी ऐसोसीएशनों की उचित माँगों को तुरंत मंज़ूरी दें और उन माँगों को हल करने के लिए तरीके और साधन तैयार करें जिनके लिए तकनीकी दख़ल की ज़रूरत है।
मीटिंग में अन्यों के अलावा प्रमुख सचिव स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण पंजाब विकास गर्ग आई.ए.एस., एम.डी., एन.एच.एम. कुमार राहुल, डायरैक्टर स्वास्थ्य विभाग डा. अन्देश, डायरैक्टर परिवार कल्याण डा. ओम प्रकाश गोजरा और डायरैक्टर एन.एच.एम. पंजाब डा. अरीत कौर उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *