बजरंग दल ने फूंका पाकिस्तान का झंडा, जला कर किया आतंकवाद के खिलाफ प्रदर्शन

कपूरथला, 9 अक्टूबर। कश्मीर में आतंकियों द्वारा अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों की निर्मम हत्या किए जाने पर हेरिटेज शहर में शुक्रवार को बजरंग दल ने शहर के मस्जिद चौक चौराहों पर पाकिस्तान के खिलाफ प्रदर्शन कर गुस्से का इजहार किया।बजरंग दल के प्रतिनिधियों ने कश्मीर में अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों की हत्या किए जाने की घटना पर गहरी चिंता जताई।उन्होंने सरकार से कश्मीर में अल्पसंख्यक समुदाय की सुरक्षा की मांग की।
इस दौरान बजरंग दल के जिला प्रधान जीवन प्रकाश वालिया, जिला प्रभारी चन्दर मोहन भोला के नेतृत्व में कार्यकर्ताओ ने पाकिस्तान के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन करते हुए पाकिस्तान के झंडे फुके और नारेबाजी की।इस मौके पर विश्व हिन्दू परिषद जालंधर विभाग के प्रधान नरेश पंडित विशेष तौर पर उपस्थित हुए।इस दौरान पत्रकारों से बातचीत करते हुए जीवन प्रकाश वालिया ने कहा की दुनिया के अनेक देश आज भी आतंकवाद से जूझ रहे हैं।आए दिन कहीं न कहीं आतंकवादी वारदातें होती रहती हैं।इनमें हजारों लोगों के जान गंवाने के बाद भी आतंकवाद पर नकेल नहीं कसी जा सकी है।जीवन प्रकाश वालिया ने आतंकवाद को मानवता का दुश्मन करार देते हुए कहा कि आतंकवाद को आज जड़ से खत्म करने की जरूरत है और जो आतंकवाद को पनाह देते हैं,उन्हें भी नहीं बख्शा जा सकता।उन्होंने कहा,जो आतंकवाद को जड़ से खत्म करने की जरूरत पैदा हुई है।जो आतंकवाद को पनाह देते हैं,जो आतंकवाद की मदद करते हैं, अब तो उनको भी बख्शा नहीं जा सकता है।उन्होंने आतंकवाद के खिलाफ दुनिया के सभी देशों से एकजुट होने की अपील करते हुए कहा,कोई माने कि हम आतंकवाद से बचे हुए हैं तो गलतफहमी नहीं पाले।आतंकवाद की कोई सीमा और कोई मर्यादा नहीं होती।वह कहीं पर जाकर किसी भी मानवतावादी चीजों को नष्ट करने पर तुला हुआ है।इसलिए विश्व की मानवतावादी शक्तियों का आतंकवाद के खिलाफ एकजुट होना अनिवार्य हो गया है।
चंदरमोहन भोला ने कहा आतंकवाद मानवता का दुश्मन है।भोला ने कहा कि अगर सवा सौ करोड़ देशवासी एक होकर आतंकवादियों की हर हरकत पर ध्यान रखें और चौकने रहें तो आतंकवादियों का सफल होना बहुत मुश्किल होगा।भोला ने कहा आतंकवाद को खत्म किए बिना मानवता की रक्षा संभव नहीं है।आतंकवाद के खिलाफ एकजुट होकर लड़ाई लड़ने का आह्वान करते हुए भोला ने भारतीय संस्कृति के मूल्यों की भी चर्चा की।उन्होंने कहा,श्रीकृष्ण के जीवन में भी युद्ध था।राम के जीवन में भी युद्ध था।लेकिन हम वे लोग हैं,जो युद्ध से बुद्ध की ओर चले जाते हैं।
उन्होंने कहा,समय के बंधनों से,परिस्थिति की आवश्यकताओं से युद्ध कभी-कभी अनिवार्य हो जाते हैं,लेकिन ये धरती का मार्ग युद्ध का नहीं बल्कि बुद्ध का है।उन्होंने कहा कि देश की एकता और अखंडता के खिलाफ बयानबाजी करने वालों को देशवासी कभी नहीं माफ करेंगे।उन्होंने कहा कि भारत सरकार देशद्रोही गतिविधियों में शामिल सभी आराजक तत्वों पर लगाम लगाए।विरोध प्रदर्शन में विहिप नेता मंगत राम भोला,बजरंग दल प्रदेश कमेटी के सदस्य संजय बॉबी, शहरी उपप्रधान मोहित जस्सल, पवन शर्मा, अशोक शर्मा, दीपक मरवाहा, आनंद यादव, विजय यादव, राजीव कुमार टंडन, देव महतो, संदीप शर्मा, बजरंगी, कारन शर्मा, रिंकू छाबड़ा, चंदन शर्मा आदि शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *