अफ़ग़ानिस्तान में तालिबानियों द्वारा किया जा रहा जुल्म गलत: विष्णु महाराज

चंडीगढ़, 14 सितंबर। श्री चैतन्य गौड़ीय मठ सेक्टर-20 चंडीगढ़ में मंगलवार को राधाष्टमी महामहोत्सव श्री चैतन्य गौड़ीय मठ संस्थान के नवनियुक्त अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष पूज्यपाथ स्वामी भक्तिविचार विष्णु महाराज के नेतृत्व में हर्षोउल्लास, उमंग और जोश के साथ मनाया गया। राधाष्टमी के दिन चंडीगढ़ मीडिया से मुलाकात करते हुए विष्णु महाराज ने सबसे पहले अफ़ग़ानिस्तान में चल रही स्थिति पर अपने विचार व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि जो गलत वह गलत ही रहेगा। सनातन धर्म में तो एक चिंटी को भी मारना गलत माना जाता है और अफ़ग़ानिस्तान में तो मनुष्यों को मारा जा रहा है। मनुष्य को ऐसा कष्ट देना बहुत गलत है फिर चाहे वह पॉलिटिकल कारण से हो या किसी और कारण से। तालिबानियों द्वारा लोगों पर जो जुल्म किया जा रहा है वह बिलकुल गलत है।
विष्णु महाराज ने सनातन धर्म के प्रचार को लेकर भविष्य की योजनाओं के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि धर्म से कटने वाले लोगों को हमारी महान संस्कृति के बारे में बताकर सनातन धर्म से दुबारा जोड़ना हमारा पहला लक्ष्य होगा। इसके साथ ही आज की युवा पीढ़ी नशों में पड़कर अपनी ज़िंदगी बर्बाद कर रही है। हम उन्हें स्नातन धर्म से जोड़कर उनकी ज़िंदगी को दुबारा से सही रास्ते पर लेकर आएंगे यह हमारा अहम लक्ष्य रहेगा। विष्णु महाराज ने बताया कि हम नई टेक्नोलॉजी जैसे व्हाट्सएप, फेसबुक, ज़ूम मीटिंग आदि का इस्तेमाल सनातन धर्म के प्रचार के लिए करेंगे ताकि ज़्यादा से ज़्यादा लोग स्नातन धर्म अपनाएं।
इस अवसर पर विदेशों से श्रद्धालु भी पधारे। विष्णु महाराज के साथ जर्मनी से परमादिति महाराज, अमेरिका से गोविंद महाराज, कोलंबिया से माधव प्रभु भी प्रेस वार्ता में उपस्थित रहे।
मठ के प्रवक्ता जय प्रकाश गुप्ता ने राधाष्टमी कार्यक्रम के बारे में बताया कि प्रातःकाल मंगल आरती के पश्चात संकीर्तन प्रवचन का आयोजन किया गया जिसमें देश विदेश से आए हुए सन्यासी भक्तजनों ने भाग लिया। पूरे वर्ष राधा रानी के चरण दर्शन नहीं किए जा सकते लेकिन आज राधाष्टमी को राधा रानी के चरण दर्शन किए जा सकते हैं। राधा रानी के चरण दर्शन करने से विघ्न दूर होते हैं मनोकामना पूरी होती है और भगवान कृष्ण की भक्ति प्राप्त होती है। दोपहर 12 बजे राधा रानी का पंचामृत से अभिषेक किया गया। तत्पश्चात सैंकड़ों भक्तों को स्वादिष्ट प्रसाद वितरित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *