चंडीगढ़ में चौराहों पर अब नहीं दिखेंगे भिखारी: एसएसपी चहल

चंडीगढ़, 4 सितंबर। फॉस्वेक की कार्यकारिणी की मीटिंग में एसएसपी चंडीगढ़ कुलदीप सिंह चहल, केतन बंसल एसपी (सिटी), श्रुति अरोड़ा एएसपी (साउथ), गुरमुख सिंह डीएसपी (ईस्ट) और मनिंदर सिंह एसएचओ सेक्टर 36 पुलिस स्टेशन सम्मिलित हुए और भारी संख्या में आए हुए सदस्यों की समस्याओं और सुझावों को सुना।
फॉस्वेक के चेयरमैन बलजिंदर सिंह बिट्टू ने चंडीगढ़ में तेजी से बढ़ रही अपराध दर पर चिंता जताते हुए कहा कि बीट सिस्टम को और अधिक मजबूत करने की आवश्यकता है। फॉस्वेक के महासचिव जेएस गोगिया ने कहा कि चौराहों पर जगह-जगह भिखारी देखे जा सकते हैं जिससे ट्रैफिक व्यवस्था बिगड़ती है और एक्सीडेंट का खतरा बना रहता है।
फॉस्वेक के मुख्य प्रवक्ता और सेक्टर 38 वेस्ट आरडब्ल्यूए के अध्यक्ष पंकज गुप्ता ने कहा कि सेक्टर 38 वेस्ट का एरिया मलोया पुलिस स्टेशन के अंतर्गत आता है और यदि इसे सेक्टर 39 पुलिस स्टेशन के साथ जोड़ दिया जाए तो लोगों के लिए भी सहूलियत रहेगी और पुलिस नियंत्रण भी बेहतर रहेगा। वैसे भी नगर निगम द्वारा की गई नई वार्डबंदी में सेक्टर 38 वेस्ट को सेक्टर 39 और 40 के साथ जोड़ दिया गया है।
वाइस चेयरमैन केदार नाथ शर्मा ने कहा कि पहले बीट स्टाफ सीनियर सिटीजंस से मिलकर उनकी समस्याओं के बारे में जानता रहता था परंतु अब काफी समय से ऐसा नहीं हो रहा है। सेक्टर 39 आरडब्ल्यूए के अध्यक्ष अमरदीप सिंह ने कहा कि यदि पुलिसिंग में आरडब्ल्यूए की भागीदारी हो तो अपराधियों पर निगरानी आसान होगी। मुख्य सलाहकार कमलजीत सिंह पंछी और सेक्टर 20 आरडब्ल्यूए के अध्यक्ष ओ पी वर्मा ने चंडीगढ़ में बढ़ रहे नशे के व्यापार पर चिंता जाहिर की। सलाहकार के एस चौधरी ने कहा कि ट्रैफिक पुलिस को चालान काटने की वजह लोगों को जागरूक करने का कार्य भी करना चाहिए। सेक्टर 15 आरडब्ल्यूए के अध्यक्ष रविकांत शर्मा और सेक्टर  44 आरडब्ल्यूए के अध्यक्ष वी के निर्मल कहा कि जब पुलिस को कोई शिकायत की जाती है तो उसे गोपनीय रखा जाना चाहिए। सेक्टर 21 आरडब्ल्यूए के महासचिव प्रदीप चोपड़ा, सेक्टर 13 आरडब्ल्यूए के अध्यक्ष कर्नल गुरसेवक सिंह, एचआईजी डुप्लेक्स हाउसेज मॉडर्न हाउसिंग कॉम्प्लेक्स के अध्यक्ष के एल अग्रवाल और मिल्क कॉलोनी धनास आरडब्ल्यूए के अध्यक्ष अवतार सिंह ने बेहतर पुलिस पब्लिक संबंध बनाने और थोड़े-थोड़े अंतराल पर मीटिंग करने पर जोर दिया। सेक्टर 46 आरडब्ल्यूए के अध्यक्ष नरेंद्र भाटिया और सेक्टर 35 आरडब्ल्यूए अध्यक्ष जगपाल सिंह ने कहा कि लोगों को अपने घरों में सुरक्षा उपकरण जैसे दरवाजे की चेन, सीसीटीवी कैमरा, मैजिक-आई इत्यादि लगाने के लिए प्रोत्साहित किया जाना चाहिए। सेक्टर 15 आरडब्ल्यूए की उपाध्यक्ष दीपा दूबे ने कहा की चंडीगढ़ में महिलाओं की सुरक्षा के दृष्टिगत जरूरी कदम उठाने की आवश्यकता है।
लोगों की समस्याओं और सुझाव सुनने के उपरांत एसएसपी कुलदीप सिंह चहल ने कहा कि चौराहों से भिखारी तुरंत प्रभाव से हटाए जाएंगे और बीट सिस्टम को मजबूत किया जाएगा। एसएचओ, डीएसपी और एसएसपी स्तर पर आरडब्ल्यू के साथ लगातार मीटिंग की जाएगी और जो भी सुझाव उनके पास आए हैं उन पर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *