पॉजिटिव एटीट्यूड सफलता का मूल मंत्र: हरदीप सिंह

चंडीगढ़ 27 अगस्त। पॉजिटिव एटीट्यूड सफलता का वह मूल मंत्र है जिससे बड़ी से बड़ी सफलता आसानी से प्राप्त हो सकती है बस किसी भी कार्य को करने के लिए जुनून होना चाहिए। यह कहना है कलाकार हरदीप सिंह का जिन्हें हाल ही में मैग्निफिसेंट फिल्म प्रोडक्शन ने अपने एक पंजाबी सॉन्ग में मुख्य कलाकार की भूमिका दी है। यह पंजाबी सांग एमएफपी टैलेंट के बैनर तले रिलीज किया जायेगा। जिसकी शूटिंग सितम्बर के दूसरे सप्ताह में शुरू होगी।
मोहाली जीरकपुर के रहने वाले हंसमुख स्वभाव के धनी हरदीप सिंह अभी 28 वर्ष के हैं वे चंडीगढ़ ट्रांसपोर्ट अंडरटेकिंग (सीटीयू) बस में कंडक्टर की जॉब करते हैं लेकिन उनमें एक्टिंग के गुर स्कूल टाइम से समाए हुए हैं। उन्होंने अपनी ग्रेजुएशन सेक्टर 26 के खालसा कॉलेज से की है।
हरदीप बताते है कि उनके अभिनय की अदा से कायल हो कर सभी उनको एक्टिंग व मॉडलिंग की दुनिया में प्रवेश करने की सलाह देते रहते थे। और उन्होंने सोशल मीडिया पर मॉडलिंग और एक्टिंग का मंच ढूंढना शुरू किया जिस पर उन्हें एमएफपी टैलेंट मिला। फिर क्या था वे मोहाली स्थित मैग्निफिसेंट फिल्म्स के ऑफिस पहुंचे और मॉडलिंग में अपना ऑडिशन दिया और चयनित हो गए और उनको प्रोडक्शन हाउस के डायरेक्टर रोहित कुमार ने एक पंजाबी सांग में मुख्य भूमिका निभाने का रोल दे दिया।
प्रोडक्शन हाउस द्वारा दिये गए काम से हरदीप सिंह बेहद खुश है क्योंकि उन्हें एक उच्च कोटि का मंच मिला है। वे कहते है कि एमएफपी टैलेंट की टीम ने मुझे बहुत सपोर्ट किया। मैंने उनसे कई चीजें सीखी जो मुझे पता ही नहीं थी।
उन्होंने बताया कि सीटीयू में जॉब मिल जाने के बाद मैं थोड़ा व्यस्त हो गया था लेकिन मैंने टाइम मैनेजमेंट का पूरा ध्यान रखा और अपनी छुट्टियों को बचा कर रखा। इन छुट्टियों का उपयोग मैंने शूटिंग देखने और ऑडिशन देने में बिताया। हरदीप ने बताया कि मुझे अपने अंदर छुपे हुए हुनुर  की असली पहचान तब हुई जब मैं पंजाब यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स सेन्टर में अपने कुछ खास दोस्तों के साथ गया और उनका दिल बहलाने के लिए एक शराबी की एक्टिंग करने लगा। मेरी एक्टिंग के समर्पित भाव को थिएटर आर्ट्स से जुड़े कुछ कलाकारों ने देखा और मुझे इस प्रोफेशन में आगे आने के लिए उत्साहित किया। इसके बाद मुझे दो पंजाबी फिल्मों में जूनियर आर्टिस्ट का रोल मिला। ये रोल एक पुलिस कांस्टेबल का था जिसे मैंने बखूबी निभाया।  उसके बाद में इस लाइन में जुड़ने के लिए निरंतर प्रयास करता रहा और एक समय आया जब मेरा हाथ मैग्नीफिसेंट फिल्म्स के मैनेजिंग डायरेक्टर व फिल्म प्रोड्यूसर, एक्टर रोहित कुमार ने थामा और मेरी कला को पहचाना और मुझे सांग में मुख्य किरदार की भूमिका निभाने का मौका दिया। यह मेरी जिंदगी का सबसे बड़ा ब्रेक है जिसके लिए मैं उनका सदैव आभारी रहुंगा।
इस अवसर पर एमएफपी टैलेंट के मैंनेजिंग डायरेक्टर रोहित कुमार ने बताया कि एमएफपी टैलेंट युवा कलाकारों को एक बेहतर मंच प्रदान कराने के लिए प्रतिबद्ध हैं और इस दिशा में कार्य करता है। उन्होंने बताया कि हरदीप सिंह में जिंदगी में कुछ कर दिखाने का जुनून है और वे क्षेत्र में सफलता प्राप्त करेगा इस बात में कोई शक नहीं है।  उन्होंने आगे कहा कि वे हरदीप को अपने आने वाले विभिन्न प्रोजेक्टस में काम भी देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *