मुख्यमंत्री ने गोपाष्टमी पर प्रदेशवासियों के सुखद भविष्य की करी कामना

चंडीगढ़, 20 नवंबर। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सोमवार को गोपाष्टमी के पावन अवसर पर जिला पलवल के होडल क्षेत्र में स्थित गौ सेवा धाम परिसर में पहुंचकर गौ पूजन किया और बहुमंजिला गौ सेवा हॉस्पिटल की आधारशिला रखी।
मुख्यमंत्री ने गौ सेवा धाम की व्यवस्था का अवलोकन करते हुए गौ माता की पूजा की और प्रदेश के हर नागरिक की खुशहाली, स्वस्थ व सुखद जीवन की कामना की।
मुख्यमंत्री ने भूमि पूजन कार्यक्रम के दौरान गौ सेवा धाम की संस्थापक देवी चित्रलेखा द्वारा इस प्रकार के पुण्य कार्य मे निभाए जा रहे दायित्व की सराहना की।
मुख्यमंत्री ने गोपाष्टमी पर्व की प्रदेशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आज हर जीव के प्रति सेवा भाव का दिन है, ऐसे में गौ सेवा से जुड़ी संस्थाओं के लिए ज्यादा से ज्यादा दान देना चाहिए। हमें गौधन को बचाने के लिए उसकी उपयोगिता को बढ़ाना होगा।

गौ सेवा के लिए दिल खोलकर दान दें हर नागरिक
मुख्यमंत्री ने खुशी जताई कि उन्हें गौ सेवा धाम आने का अवसर मिला, ऐसे में वे अपने आप को धन्य समझते हैं। उन्होंने कहा कि मनुष्य का अस्पताल और मानव सेवा तो हम सबके मन मे आती है लेकिन पशुओं, जीव जंतुओं और पक्षियों की सेवा का भाव बिरले लोगों के मन में ही आता है। उन्होंने गौ सेवा धाम के संचालन के लिए देवी चित्रलेखा की सरहाना की और अपने कोष से 21 लाख रुपये सेवा धाम को देने की घोषणा की।

गौ सेवा आयोग के बजट में 10 गुणा बढ़ोतरी
मनोहर लाल ने कहा कि गौधन के संरक्षण और संवर्धन के लिए देश और प्रदेश की सरकार कृत संकल्प है। साथ ही गौशालाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए सरकार और गौसेवा आयोग प्रभावी रूप से काम कर रहा है। सरकार द्वारा गौ सेवा आयोग के बजट में 10 गुणा बढ़ोतरी करते हुए मौजूदा बजट 400 करोड़ रुपए कर दिया है। सरकार की सोच है कि बेसहारा गौवंश की सेवा के लिए पंचायतें गौशाला बनवाने के लिए प्रस्ताव पास करते हुए गौसेवा आयोग और पशुपालन विभाग से सम्पर्क करें, ताकि गौसेवा के लिए आमजन मानस को जोड़ा जा सके।
उन्होंने कहा कि गौवंश के संरक्षण और संवर्धन के लिए एक अच्छा कानून बनाया गया है। उस मजबूत कानून की आज देश में प्रशंसा हो रही है। उन्होंने कहा कि गौ सेवा से जुड़े संस्थान हमेशा आपसी सहयोग से चलते हैं, जिनके लिए प्रत्येक नागरिक को आगे आकर सहयोग के लिए हाथ बढ़ाना चाहिए। उन्होंने कहा कि गौ सेवा से बढक़र कोई दूसरी सेवा नहीं है। प्रत्येक नागरिक को अपनी नेक कमाई में से कुछ हिस्सा निकालकर गौसेवा पर खर्च करना चाहिए। गऊओं के लिए दान देने से कभी धन नहीं घटता, बल्कि घर में समृद्धि और खुशहाली आती है।
मुख्यमंत्री ने गौ सेवा को सर्वोपरि बताते हुए कहा कि गऊओं के लिए विशेषकर चारे और उपचार में किसी प्रकार की कमी नहीं होनी चाहिए, क्योंकि हमारे शास्त्रों में इस बात का उल्लेख है कि गौ माता के शरीर में 84 करोड़ देवी देवताओं का वास होता है, इसलिए गौ सेवा हम सबके लिए जरूरी है। उन्होंने मंचासीन संत महात्माओं को शाल भेंट कर सम्मान दिया।
इस अवसर पर स्वामी चिदानंद सरस्वती, स्वामी सम्पूर्णानंद महाराज, आचार्य लोकेश मुनि जी, पलवल से विधायक दीपक मंगला, होडल से विधायक जगदीश नायर, हथीन से विधायक प्रवीण डागर, गौ सेवा धाम के संस्थापक सदस्य स्वामी टीकाराम, माधव कुमारी, प्रत्यक्ष शर्मा, रमन देव शर्मा, डीसी नेहा सिंह व एसपी अंशु सिंघला सहित अन्य गौ प्रेमी गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *