कांग्रेस ने स्वच्छता अभियान के पोल खोज कार्यक्रम के दूसरे दिन वार्ड 3 में फैली गंदगी एवं बदहाली को किया उजागर

चंडीगढ़, 30 मई । बीजेपी सरकार के 7 साल पूरे होने पर आज चंडीगढ़ महिला कांग्रेस द्वारा नगर निगम के मेयर रविकांत शर्मा के वार्ड-3 की स्वच्छता अभियान की पोल खोल कार्यक्रम चला कर वार्ड की बदहाली एवं गंदगी को उजाकर किया है।
चंडीगढ़ महिला कांग्रेस अध्यक्षा दीपा दुबे ने बताया कि बीजेपी शासित नगर निगम द्वारा चलाया जा रहा स्वच्छता अभियान की पोल खोल कार्यक्रम के तहत वार्ड नंबर 3 जिसके पार्षद नगर निगम के मौजूदा मेयर रवि कांत शर्मा है। महिला कांग्रेस के तरफ से बताया गया कि चंडीगढ़ महिला कांग्रेस की महासचिव रमा शर्मा और वार्ड नंबर 3 महिला कांग्रेस के रितु सलहोत्रा, गुरबख्श कोर और नीलम दत्ता ने महिला कांग्रेस अध्यक्ष दीपा दुबे के साथ सेक्टर 22 का दौरा किया। वार्ड नंबर 3 सेक्टर 22 में दौरा करने के बाद देखने को मिला कि मेयर साहब के वार्ड की हालत स्वच्छता में दूसरे वार्डों के मुकाबले बहुत निंदनीय है।
महिला कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने बताया कि सेक्टर 22 की सड़कों का बुरा हाल है पार्कों में झूले टूटे हुए हैं बिजली के बॉक्स बिना गेट के है जिससे किसी भी छोटे बच्चे को करंट लग सकता है सेक्टर 22 में जगह-जगह कूड़ा पड़ा है लेकिन नगर निगम उसे उठाने के लिए कोई दिलचस्पी नहीं दिखा रहा, सेक्टर 22 की रोड गली और घरों के पीछे की बैक लेन कूड़े से भरी हुई है लेकिन नगर निगम के मेयर रविकांत शर्मा को अपने वार्ड का कोई ध्यान नहीं है। जगह जगह पानी इकट्ठा हुआ है इस जलजमाव को दूर करने का कोई भी रास्ता नगर निगम द्वारा नहीं निकाला जा रहा है ।
चंडीगढ़ महिला कांग्रेस ने बीजेपी शासित नगर निगम के मेयर रविकांत शर्मा से यह प्रश्न पूछा है कि अगर वह अपने वार्ड जिसको व अपना घर मानते हैं उसकी सुध बुध नहीं ले सकते तो चंडीगढ़ के मेयर होने के नाते चंडीगढ़ का क्या ध्यान रखेंगे । अंत में रमा शर्मा महासचिव महिला कांग्रेस ने कहा कि अगर चंडीगढ़ के मेयर के वार्ड की हालत इतनी निंदनीय है तो चंडीगढ़ कैसे स्वच्छता सर्वेक्षण में नंबर एक पर आएगा?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *