हिमाचल प्रदेश में विश्व के सबसे ऊंचे गांव कॉमिक ने 60 से अधिक आयु वर्ग के बीच हुआ 100% टीकाकरण

चंडीगढ़, 22 मई । हिमाचल प्रदेश के काज़ा ब्लॉक में दुनिया के सबसे ऊंचे गांव कॉमिक ने 60 से अधिक आयु वर्ग में शत-प्रतिशत टीकाकरण कराकर कोविड-19 के खिलाफ राह दिखाई है। 45 से 59 वर्ष की आयु के लोगों को भी इसकी पहली खुराक मिल गई है। सुदूर गाँव राज्य के जनजातीय जिला लाहौल और स्पीति में 4,587 मीटर (15,000 फीट से ऊपर) की ऊँचाई पर स्थित है।
काज़ा ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर, डॉ तेनज़िन नोरबू ने बताया कि निवासियों में टीकाकरण के लिए “बहुत उत्साह” था। उन्होंने जानकारी दी कि अधिक ऊंचाई वाले काज़ा ब्लॉक की 13 पंचायतों के 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के कुल 7,050 निवासियों का पूर्ण टीकाकरण किया जा चुका है। जबकि, 45 से 59 वर्ष की आयु के कुल 1,578 लोगों ने टीकाकरण का पहला शॉट प्राप्त किया है। इनमें 751 पुरुष और 827 महिलाएं शामिल हैं। डॉ नोरबू ने कहा कि ग्रामीणों के इस वर्ग को उनकी दूसरी खुराक निर्धारित समय के अनुसार मिलेगी। ग्रामीणों ने टीकाकरण करने वाली मेडिकल टीम को सम्मानित भी किया।
डॉ नोरबू ने कहा कि इस माह के अंत तक 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लिए टीकाकरण अभियान शुरू हो जाएगा। इस आयु वर्ग के अंतर्गत ब्लॉक में 3,969 व्यक्तियों की आबादी है, जिसमें 2,020 महिला और 1,949 पुरुष हैं। दोनों श्रेणियों यानि 45 प्लस और 18 प्लस के जनसंख्या के आंकड़ों देखने से ऐसा लगता है कि ब्लॉक में भी पुरुषों की तुलना में महिलाओं का अच्छा लिंगानुपात है। कॉमिक विश्व का सबसे ऊँचा गाँव है जो मोटर योग्य सड़क से जुड़ा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *