डिप्पू होल्डरों की आय बढ़ाने के लिए मार्कफैड्ड के कुछ उत्पाद बेचने की इजाज़त देने पर विचार: लाल चंद कटारूचक्क

चंडीगढ़, 13 मई। पंजाब के समूह डिप्पू होल्डरों को बड़ी राहत देते हुए राज्य के ख़ाद्य, सिविल सप्लाई और उपभोक्ता मामलों संबंधी मंत्री लाल चंद कटारूचक्क के दिशा निर्देशों पर आज विभाग की तरफ से डिप्पू होल्डरों को प्रधानमंत्री अन्न कल्याण योजना के अंतर्गत वितरित किये गेहूँ के कमीशन के तौर पर 42 करोड़ रुपए जारी किये गए।
राज्य भर के डिप्पू होल्डरों के साथ यहाँ सैक्टर-39 स्थित अनाज भवन में एक मीटिंग की अध्यक्षता करते हुए लाल चंद कटारूचक्क ने कहा कि राज्य सरकार डिप्पू होल्डरों को पेश आने वाली समस्याओं से अच्छी तरह अवगत है और उनको दूर करने के लिए हर संभव यत्न कर रही है। उन्होंने इस मौके पर यह भी कहा कि इसी के हिस्से के तौर पर सरकार की यह भी भरपूर कोशिश है कि डिप्पू होल्डरों की आय में विस्तार करने के लिए उनको अपने डिप्पूओं पर मार्कफैड्ड के कुछ उत्पाद बेचने की इजाज़त दी जाये। मार्कफैड्ड के एक प्रतिष्ठित अदारा होने के कारण इसके उत्पादों की बाज़ार में बहुत माँग है जिससे इन उत्पादों को बेच कर डिप्पू होल्डर भी अपनी आय में अच्छा विस्तार कर सकते हैं।
इस मौके पर मंत्री ने यह भी कहा कि डिप्पू होल्डरों की तरफ से अपना कमीशन बढ़ाए जाने और किसी भी कारण से योग्य लाभार्थियों के काटे गए राशन कार्ड आदि मुद्दे उनके ध्यान में हैं, जिनको हल करने के लिए भरपूर कोशिश की जायेगी।
इस मौके पर मंत्री ने स्पष्ट किया कि विभाग के कामकाज में पूरी तरह पारदर्शिता बरती जा रही है और भ्रष्टाचार को बिल्कुल बरदाश्त न करने की नीति पर अमल किया जा रहा है। उन्होंने प्रत्येक से अपील की कि आओ, हम सभी मिलजुल कर एक नया, तरक्कीशुदा और ख़ुशहाल पंजाब सृजित करें।
इस मौके पर ख़ाद्य, सिविल सप्लाई और उपभोक्ता मामलों के विभाग के सचिव गुरकिरत किरपाल सिंह, डायरैक्टर अभिनव त्रिखा और पंजाब राज्य डिप्पू होल्डर यूनियन (सिद्धू) के प्रदेश प्रधान और ऑल इंडिया फेयर प्राईज़ शॉप फेडरेशन के वाइस प्रधान कैप्टन गुरजिन्दर सिंह सिद्धू भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.