सोनी ने वीडियो कान्फ़्रेंस के द्वारा ज़िला अस्पताल पटियाला, संगरूर और बरनाला में रेडियो डायग्नोसोटिक और लैबोरोटरी सेंटरों का किया उद्घाटन

चंडीगढ़, 7 जनवरी। ओ,पी. सोनी, उप-मुख्यमंत्री, पंजाब ने आज वीडियो कान्फ़्रेंस के द्वारा ज़िला अस्पताल पटियाला, संगरूर और बरनाला के रेडियो डायग्नोसोटिक और लैबोरोटरी सैंटरों का उदघाटन किया।
इस मौके पर बोलते हुये सोनी ने कहा कि इस पंजाब सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के प्रयास स्वरूप कृष्णा डायग्नोस्टिक के साथ पब्लिक प्राईवेट पार्टनर्शिप के अधीन यह काम शुरू किया गया है।
पंजाब सरकार द्वारा राज्य के लोगों को रेडियोलोजी और लैबोरटरी की सस्ते सहूलतें देने का एक अच्छा प्रयास किया गया है। यह सभी पंजाब के हर वर्ग के लोगों के लिए उपलब्ध होंगी। आम लोगों को अच्छे डायग्नोस्टिक टैस्ट करवाने के लिए बढ़े शहरों में जाना पड़ता था और काफ़ी खर्चा आता और समय भी बर्बाद होता था। कोविड-19 महामारी के दौरान ऐसी सेवाओं की ज़्यादा ज़रूरत महसूस हुई थी।
उप मुख्यमंत्री ने बताया कि आज शुरू की गई सेवाओं में रेडियोलोजी डायग्नोस्टिक प्रोजेक्टस पंजाब के सभी 22 जिलों और 3सब डिविज़नल अस्पताल खन्ना, फगवाड़ा और राजपुरा में खोले जा रहे हैं।इस प्रोजैक्ट में 25 सी.टी. स्कैन और 6एम.आर.आई मशीनें लगाई जाएंगी। रेडियो डायग्नोसोटिक सेंटरों के निर्माण की लागत 100 करोड़ रुपए है। उन्होंने बताया कि यह हिन्दोस्तान का सबसे बढ़ा पी.पी.पी आधार का प्रोजैक्ट है।
इस प्रोजैक्ट के अधीन होने वाले टैस्ट मार्केट रेट से 65 से 70 प्रतिशत तक कम रेटों पर किये जाएंगे और गरीब और कमज़ोर मरीजों का टैस्ट फ्री किया जायेगा।
इसी तरह लैबोरटरी डायग्नोस्टिक प्रोजेक्टस के अधीन पूरे पंजाब राज्य में 30 अत्याधुनिक लैबोरटरीज़ और एक स्टेट रैफरैंस लोबोरटरी और 95 कलेक्शन सेंटरों की स्थापना की जा रही है। इन लैबोरटरी डायगनोसोटिक सेंटरों के निर्माण की लागत 25 करोड़ रुपए है। इन लैबोरटरियों में 5प्रतिशत गरीब और कमज़ोर मरीजों का टैस्ट फ्री किया जायेगा।
उन्होंने बताया कि इसी तरह के रेडियो डायग्नोस्टिक सैंटर-मोहाली, रोपड़, श्री फतेहगढ़ साहिब, राजपुरा और अमृतसर में पहले ही लोगों की सुविधा के लिए खोले जा चुके हैं, पटियाला (सीटी स्कैन /एमआरआई /लैबोरटरी) संगरूर (सीटी स्कैन) और बरनाला (सीटी स्कैन) सैंटरों का उद्घाटन आज किया गया है और बाकी रहते सभी सैंटर 31 मार्च, 2022 तक खोल दिए जाएंगे।
लैबोरटरी डायग्नोस्टिक सैंटर – मोहाली, बटाला और अमृतसर में पहले ही लोगों की सुविधा के लिए खोले जा चुके हैं, पटियाला सैंटर का उद्घाटन आज किया जा रहा है और बाकी रहते सभी सैंटर 31 मार्च 2022 तक खोल दिए जाएंगे।
सोनी ने बताया कि कार्डियक केयर सेंटर प्रोजेक्ट के अधीन राज्य के 4 जिलों के सिविल अस्पतालों जालंधर, लुधियाना, संगरूर और बठिंडा में पी.पी.पी आधार पर कार्डियक केयर सेंटरों की स्थापना की जायेगी। इस प्रोजैक्ट की लागत प्रति सैंटर लागत 15 करोड़ रुपए होगी। इन सैंटरों को बनाने की प्रक्रिया जल्द ही शुरू कर दी जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.