अखिल भारतीय प्रवासी हिमाचली सयुंक्त मोर्चा ने संजय टण्डन को सौंपा मांग पत्र

चण्डीगढ़, 5 जनवरी। बेरोजगारी के आलम में मजबूरी में मजदूरी करने के लिए अपनी जन्मभूमि से बाहर देश के अन्य राज्यों में जाकर निजी क्षेत्रों में कार्य करने वाले प्रवासी हिमाचलवासी लोगों के बच्चों को अपनी जन्मभूमि हिमाचल प्रदेश में ही मेडिकल शिक्षा में दाखिले के अधिकार 2018 से प्रदेश सरकार ने प्रतिबन्ध लगाया हुआ है।
यह बात अखिल भारतीय प्रवासी हिमाचली सयुंक्त मोर्चा के चेयरमैन राजेश ठाकुर ने चण्डीगढ़ में हिमाचल प्रदेश में भाजपा के सह प्रभारी संजय टण्डन से मुलाकात कर उन्हें मांगपत्र सौंपते हुए कही। उन्होंने कहा कि यह प्रतिबन्ध हिमाचल सरकार ने उन प्रवासी हिमाचलवासी बच्चों के लिए लगाएं है जिन बच्चों ने अपने अभिभावकों के साथ रहकर 12वीं तक स्कूलिंग बाहरी राज्यों से की है। उन्होंने संजय टंडन से इस ओर तत्काल ध्यान देने की मांग की जिस पर संजय टंडन ने प्रदेश सरकार के समक्ष ये मामला उठाने का आश्वासन दिया। प्रतिनिधिमंडल में हिमाचल महासभा, चण्डीगढ़ के अध्यक्ष पृथ्वी सिंह प्रजापति व महासचिव भागी रथ शर्मा के साथ-साथ संयुक्त मोर्चा के जगदेव पटियाल, पृथ्वी राज शुक्ला, राम गोपाल, रमेश सौर, नंद लाल, संजीव शर्मा, राजेन्द्र ठाकुर, ललित वर्मा, देवेंद्र, प्रकाश ठाकुर, श्याम लाल, मोहिंद्र सिंह, रजनीश कुमार, सोहन लाल, विजय शर्मा, नरेश कुमार व मोहन लाल भी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *